Virendra Kumar Sharma
Virendra Kumar Sharma

Due to lack of unity among us our country declared as Secular where our gau mata is being butchered and some people ask on the existence of Lord Shri Ram and Shri Krishna. The need of the hour is to be united. Then we can do something for the safety of cows. If we are not one nothing will be done. So, we first must be united and must make a much where we all will be joined and exchange our views. I am waiting for your next steps in this regard with your contact no. ||Jay Shri Ram ||.

Gagan Tara Sharma
Gagan Tara Sharma
  • Virendra Kumar Sharma

hmm..

Marie Time
Marie Time

signé **ptg **.

Fabian Rasse
Fabian Rasse
  • Marie Time

Signé,

Kamdhenu Kalyan Parivar

गाय का घी(देशी भारतीय गौ माता ).

गाय के घी को अमृत कहा गया है। जो जवानी को कायम रखते हुए, बुढ़ापे को दूर रखता है। काली गाय का घी खाने से बूढ़ा व्यक्ति भी जवान जैसा हो जाता है। गाय के घी से बेहतर कोई दूसरी चीज नहीं है।.
दो बूंद देसी ग.

ाय का घी नाक में सुबह शाम डालने से माइग्रेन दर्द ढीक होता है।.
सिर दर्द होने पर शरीर में गर्मी लगती हो, तो गाय के घी की पैरों के तलवे पर मालिश करे, सर दर्द ठीक हो जायेगा।.
नाक में घी डालने से नाक की खुश्की दूर होती है और दिमाग तारो ताजा हो जा.
ता है।.
...

गाय का घी(देशी भारतीय गौ माता ).

गाय के घी को अमृत कहा गया है। जो जवानी को कायम रखते हुए, बुढ़ापे को दूर रखता है। काली गाय का घी खाने से बूढ़ा व्यक्ति भी जवान जैसा हो जाता है। गाय के घी से बेहतर कोई दूसरी चीज नहीं है।.
दो बूंद देसी ग.

ाय का घी नाक में सुबह शाम डालने से माइग्रेन दर्द ढीक होता है।.
सिर दर्द होने पर शरीर में गर्मी लगती हो, तो गाय के घी की पैरों के तलवे पर मालिश करे, सर दर्द ठीक हो जायेगा।.
नाक में घी डालने से नाक की खुश्की दूर होती है और दिमाग तारो ताजा हो जा.
ता है।.
गाय के घी को नाक में डालने से मानसिक शांति मिलती है, याददाश्त तेज होती है।.
हाथ पाव मे जलन होने पर गाय के घी को तलवो में मालिश करें जलन ढीक होता है।.
20-25 ग्राम घी व मिश्री खिलाने से शराब, भांग व गांझे का नशा कम हो जाता है।.
फफोलो पर गाय का देसी घी लगाने से आराम मिलता है।.
गाय के घी की झाती पर मालिश करने से बच्चो के बलगम को बहार निकालने मे सहायक होता है।.
सांप के काटने पर 100 -150 ग्राम घी पिलायें उपर से जितना गुनगुना पानी पिला सके पिलायें जिससे उलटी और दस्त तो लगेंगे ही लेकिन सांप का विष कम हो जायेगा।.

अगर अधिक कमजोरी लगे, तो एक गिलास दूध में एक चम्मच गाय का घी और मिश्री डालकर पी लें।.
गाय के घी का नियमित सेवन करने से एसिडिटी व कब्ज की शिकायत कम हो जाती है।.
जिस व्यक्ति को हार्ट अटैक की तकलीफ है और चिकनाइ खाने की मनाही है तो गाय का घी खाएं, हर्दय मज़बूत होता है।.
यह स्मरण रहे कि गाय के घी के सेवन से कॉलेस्ट्रॉल नहीं बढ़ता है। वजन संतुलित होता है यानी के कमजोर व्यक्ति का वजन बढ़ता है, मोटे व्यक्ति का मोटापा (वजन) कम होता है।.
गाय के घी से बल और वीर्य बढ़ता है और शारीरिक व मानसिक ताकत में भी इजाफा होता है।.

देसी गाय के घी में कैंसर से लड़ने की अचूक क्षमता होती है। इसके सेवन से स्तन तथा आंत के खतरनाक कैंसर से बचा जा सकता है।.
गाय का घी न सिर्फ कैंसर को पैदा होने से रोकता है और इस बीमारी के फैलने को भी आश्चर्यजनक ढंग से रोकता है।.

गाय का घी नाक में डालने से पागलपन दूर होता है।.
गाय का घी नाक में डालने से कोमा से बहार निकल कर चेतना वापस लोट आती है।.
गाय का घी नाक में डालने से लकवा का रोग में भी उपचार होता है।.
गाय का घी नाक में डालने से बाल झडना समाप्त होकर नए बाल भी आने लगते है।.
गाय का घी नाक में डालने से कान का पर्दा बिना ओपरेशन के ठीक हो जाता है.
गाय का घी नाक में डालने से एलर्जी खत्म हो जाती है।.
विशेष :-स्वस्थ व्यक्ति भी हर रोज नियमित रूप से सोने से पहले दोनों नशिकाओं में हल्का गर्म (गुनगुना ) देसी गाय का घी डालिए ,गहरी नींद आएगी, खराटे बंद होंगे और अनेको अनेक बीमारियों से छुटकारा भी मिलेगा।.

Kurma Rupa Dasa
Kurma Rupa Dasa
  • Kamdhenu Kalyan Parivar

Twelve of the above photos are from careforcows.org used without permission...

Pawan Mishra
Pawan Mishra

most of the antisocial animals are killing holy cow not for test but for abusing the Hindu.........

Avvaru Rao
Avvaru Rao
  • Pawan Mishra

yes what u said is true.

Kiran Mahajan
Kiran Mahajan
  • Pawan Mishra

first the hindus shoould stop selling the cow

Srikanth Reddy Tumkunta
Srikanth Reddy Tumkunta
  • Pawan Mishra

s

Swami Satyam Shree
Swami Satyam Shree

gau hindu ka pran hai.

Krishna Prakash
Krishna Prakash
  • Swami Satyam Shree

Save the holy cow

Anita Agroya
Anita Agroya

It should be stopped at National level..atleast it should nt happen in India...pathetic..but the central question still remains why this is happening...more than it's religiosity cow has it's great economic value...has the latter been done away with? Or we have changed our preferences? A multi pronged approach would be needed to really protect the cow........ It is a crime punishable under PREVENTION OF CRUELTIES TO THE ANIMALS ACT....save cow...Jai gau mata.

Anita Agroya
Anita Agroya
  • Anita Agroya

It should be stopped at National level..atleast it should nt happen in India...pathetic..but the central question still remains why this is happening...more than it's religiosity cow has it's great economic value...has the latter been done away with? Or we have changed our preferences? A multi pronged approach would be needed to really protect the cow........ It is a crime punishable under PREVENTION OF CRUELTIES TO THE ANIMALS ACT....save cow...Jai gau mata.......Everyone in my friend ...plzzz join this cause.

Lion Sevai Setlur Mukundan

HINDUTVA OR INDIANISATION ALONE CAN SAVE THE MOTHER EARTH AND KILLING OR SLAUGHTERING THE COW MEANS KILLING OR SLAUGHTERING ONES MOTHER, EATING BEEF IS THE BIGGEST SIN IN ONES LIFE. NOW ALL ARE REALISING, , PLEASE BOW BEFORE THE COW WHO CAN GIVE YOU ALL PROSPERITY AND HAPPINESS BESIDES PEACE!!

Lion Sevai Setlur Mukundan
Lion Sevai Setlur Mukundan
  • Lion Sevai Setlur Mukundan

Thanks Ji

प्रवीन सचान

I am agree save our cow.

Rakesh Agarwal
Rakesh Agarwal

we must save them..............

Ved Krishnan
Ved Krishnan

Very Nice Initiative has been taken a very perfect cause to be taken seriously , The cow is a pampered animal in India for religious reasons. Why is the... Because of its great economic importance, it makes good sense to protect the cow.

Indians find it strange that their cows should be the great concern that they are to the rest of the world. They also find it quite disgusting that others eat them. And when Westerners point out that 335 million livestock in India are competing with...

Very Nice Initiative has been taken a very perfect cause to be taken seriously , The cow is a pampered animal in India for religious reasons. Why is the... Because of its great economic importance, it makes good sense to protect the cow.

Indians find it strange that their cows should be the great concern that they are to the rest of the world. They also find it quite disgusting that others eat them. And when Westerners point out that 335 million livestock in India are competing with people for food, the Indian smiles and shakes his head. His patience usually comes to an end when someone suggests that those cows who no longer produce milk should, if not eaten, at least be killed for their hides. In such cases a Hindu might point out that the cow is rarely referred to as an animal. Usually it is reverently or tenderly called Mother Cow. And it is not killed after its milk has dried up for much the same reason that you don't kill your dog when it begins to get old. The slaughter of cows to an Indian ranks with the murder of any man. In Indian mythology when the forces of Good save a population from destruction, they always save the women, children, and the cows. Lord Krishna, one of the human forms of Vishnu, is associated with cows and is also known as Lord of the Cows. Those who tend cows are promised special consideration, for the cow is the symbolic nourisher of the earth.

See more comments…