Brigade logo
Causes is now part of Brigade – the world's first network for voters.
Join Brigade to take action on issues and elections that matter to you.
Take me to Brigade
Pradyot DebRoy Spr
Pradyot DebRoy Spr

Cow milk is the best milk after our mother's breast milk. So one should not. kill mother like cow

Prashant Kulkarni
Prashant Kulkarni

cow is the kamadhenu, it is a life giver hence needs to be protected, ban cow slaughter across the world.

Sakhi Campakalatha Devi Dasi

gomaiya ki jay.

Aishwarya Verma
Aishwarya Verma

jai gau mata.

Sumit Sharma
Sumit Sharma

OM NAMO NARAYAN.

Gagan Tara Sharma
Gagan Tara Sharma

We must NOT hurt any 'soul' around us, if we hurt, it means we are making our 'sins' :-((((.

मनोज धूपीया

जो कुछ भी भारतीय संस्कृति और सभ्यता के खिलाफ है उसे बंद होना ही चाहिए.

अमित आनंद

• ~!~ आज माँ की रक्षा के लिए हथियारबंद होना ही पडेगा.

• और हूँ भी पर क्या जो आज गाय को काट रहा है वही दुश्मन? क्या

• वो नही जो गाय को कटवा रहा हिंदू वो दुश्मन नही?

• जिसने गौ का दूध तो निकाला और सड़क पर उसे छोड़ दिया.

• क्या वो दुश्मन नही या आज गौ सेवा करते - करते गाय के मरने के बाद.

• उसे कसाई को दे दिया कि जाओ...

• ~!~ आज माँ की रक्षा के लिए हथियारबंद होना ही पडेगा.

• और हूँ भी पर क्या जो आज गाय को काट रहा है वही दुश्मन? क्या

• वो नही जो गाय को कटवा रहा हिंदू वो दुश्मन नही?

• जिसने गौ का दूध तो निकाला और सड़क पर उसे छोड़ दिया.

• क्या वो दुश्मन नही या आज गौ सेवा करते - करते गाय के मरने के बाद.

• उसे कसाई को दे दिया कि जाओ ले जाओ निकालो चमड़ा और रक्त से चाय.

• और हड्डीयों से काल्गेट बनाओ वो दुश्मन नही? कहने का मतलब कि.

• आज पहचाने केसे कोन दुश्मन कोन दोस्त? जब रक्त की गंगा बहानी ही पड़े.

• तो उस गौ को कोई छु कर दिखाए जो खूटे पर बंधी हो अगर किसी ने भी कुद्रष्टि.

• डाली फिर वो चाहे भीष्म पितामह हो या गुरु वो समाज के किसी वर्ग का सदस्य हो.

• उसकी खेर नही....
• ~!~ एक संविधान बनाओ ~!~.

• जो ''गौ रक्षा और संरक्षण '' के लिए काम करे.

• अगर देश के ये अंधी सरकार माने तो ठीक न माने तो ठीक.

• हम हमारे संविधान पर काम करेगे ,

• जिसके प्रयास में मैं हर समय रहता हूँ.

• '' सार्वजनिक गौ शालाएं '' खोलना जो देश में किसी कोने में काम करे.

• पर संविधान एक हो नेक हो और फिर मेरी गौ क्या सब की गौ जो खूटे पर बंधी हो.

• फिर जिसने अपनी माँ का दूध पिया हो छुना तो दूर बुरी नजर डाल तो दे.....नही तो बहुत देर हो रही है.

Anuj Mittal
Anuj Mittal

Gau mata mai 33 koti devtao ka niwas hota hai........ Iske alawa Gau maa ka Dhudh se lekar mutra tak kisi na kisi kaam aata hai...... Isiliye gau ko maa ki sangya di hai..... Aur aaj isi gau maa par atyachar ho rahe hain....... AAiye aage badkar iska virodh karen..........

Jugal Kishore Somani
Jugal Kishore Somani

जानिये - समझिये......
आध्यात्मिक , सनातनिक , ऋषि परम्परा की पावन भारत भूमि को " मीट - हब '' बनाने में इस देश के सभी राजनैतिक दलों ने स्वार्थपूर्ण तरीका अपना रखा है. कोई भी किसी से कम नहीं है. सब समय आने पर अपना दाव खेलते हैं. भावनाएं मर चुकी है , '' आत्मा की पुकार ''- यह शब्द भ्रामक हो चला है. माँ भारती को क्या कष्ट है - यह सोचना इन धूर्तों के वश में नहीं रहा क्योंकि इनकी आत्मा मर चुकी है. भारत देश सम्पूर्ण परिवर्तन मांगता है. नीतियाँ स्वयं अपने में आमूल - चूल परिवर्तन की मांग कर रही है. हम...

जानिये - समझिये......
आध्यात्मिक , सनातनिक , ऋषि परम्परा की पावन भारत भूमि को " मीट - हब '' बनाने में इस देश के सभी राजनैतिक दलों ने स्वार्थपूर्ण तरीका अपना रखा है. कोई भी किसी से कम नहीं है. सब समय आने पर अपना दाव खेलते हैं. भावनाएं मर चुकी है , '' आत्मा की पुकार ''- यह शब्द भ्रामक हो चला है. माँ भारती को क्या कष्ट है - यह सोचना इन धूर्तों के वश में नहीं रहा क्योंकि इनकी आत्मा मर चुकी है. भारत देश सम्पूर्ण परिवर्तन मांगता है. नीतियाँ स्वयं अपने में आमूल - चूल परिवर्तन की मांग कर रही है. हम मुरझा चुके हैं , बदलाव के भाव मस्तिष्क में लाने योग्य नहीं रहे हैं , अब तो प्रकृति ही '' कुछ '' कर सकती है क्योंकि हानि से ही लाभ ढूंढ कर निकालना होगा. जब मानवीय मंथन शिथिल पड़ जाता है तब प्राकृतिक मंथन से पुनः मनीषी पैदा होते हैं और सुधार की प्रक्रिया शुरू करते हैं. कृष्ण - चाणक्य - भगत सिंह हर वर्ष जन्म नहीं लेते हैं , ये तो चरम पर ही अवतरित होते हैं. याद रखिये - महापुरुषों का उनके जीवन काल में ही बहुत विरोध होता है - समझ तो पानी सिर पर से गुजर जाने के बाद ही आती है - फिर उनकी मूर्तियाँ गढ़ कर पूजते हैं. यही वर्तमान में हो रहा है. जानिये - समझिये.......

See more comments…