New Innovative Idea

प्रिय स्वजन क्यूँ न इस दीवाली एक नया विचार करे | दोस्तों को मिले तो बिना गिफ्ट के मिले | ये भी क्या परम्पराएँ हम शुरू कर बैठे की तुम मेरे यहाँ आना तो गिफट लेते आना और फिर मैं तेरे यहाँ जाऊंगा तो गिफ्ट लेता जाऊंगा | बड़ी बड़ी कंपनियां चांदी काट रही है और मध्यम…Read More

पटाखे क्यूँ न छुटाए

बहुत से लोग पूछ रहे हैं की क्यूँ बंद करे पटाखे छुड़ाना , अगर इतना नुक्सान करते हैं तो सरकार को चाहिए बंद कर दे | लेकिन क्या आप बिजली जाने पर इन्वेर्टर या जन्रटर नहीं लेते वो भी सरकार की जिम्मेदारी है , अपने बच्चो को प्राइवेट स्कूलो में पढाते हैं सरकारी में…Read More

Say no to crackers

अब से सिर्फ पचास साल पहले तक दिवाली पर पटाखे छुटाने की परंपरा नहीं थी | लेकिन पचास सालो में हमने इतने पटाखे छुटाए की अब धरती का सब्र टूट रहा है | राम के वनवास से आने पर सबने दिए जलाए थे न की पटाखे छुटाए थे | आओ अपने धर्म को पुन्ह जीवित करने के लिए, उसे सबके…Read More

(no subject)

अब से सिर्फ पचास साल पहले तक दिवाली पर पटाखे छुटाने की परंपरा नहीं थी | लेकिन पचास सालो में हमने इतने पटाखे छुटाए की अब धरती का सब्र टूट रहा है | राम के वनवास से आने पर सबने दिए जलाए थे न की पटाखे छुटाए थे | आओ अपने धर्म को पुन्ह जीवित करने के लिए, उसे सबके…Read More

Hausala

Dear All Friends Panchtatva Crazygreen is organizing a cultural event " HAUSALA" by Udaan kids* . You all are invited on 20th Aug 2011 at 4.00 pm at ROTARY BHAWAN, NEAR JANMANCH, SAHARANPUR. Thanks Panchtatva Crazygreen * Project Udaan:- Project to…Read More

Panchtatva Crazygreen's New initiatives

Panchtatva Crazy green is now running a school for scrap pickers and a sewing center for ladies so they can earn more for their families. Both the centers are working at INDIRA CAMP COLONY, LINK ROAD, SAHARANPUR. Panchtatva Crazygreen's effort to "Say no to…Read More

Join PANCHTATVA CRAZYGREEN to serve NATURE and SOCIETY

Dear All Panchtatva Crazygreen is working to change the face of society. We are working for nature, health and education. Project Udaan and Project Jyoti are new initiatives by the group which will change the life of hundereds. Be a part of this group and…Read More
See more
to comment